Sunday, 3 February 2013

संसार है .

ये फलसफा बहुत खूबसूरत लगा -

संसार है
कहते हैं वास्तविक है 
वास्तविक में से 
कुछ चीज़ें अधिक वास्तविक हैं .

मेरा घर 
वास्तविक है 
और घर में मेरी पत्नी 
अधिक वास्तविक .

संसार है 
इस में प्रवेश के लिए 
दरवाज़े इसके आप से आप खुलते हैं 
आप से आप इसमें आकृतियाँ बनती हैं 
शेर की हाथी की हिरन की चिड़ियों की ...
शेर हिरन का शिकार करता है 
लेकिन मैना और तरुपिक के लिए 
भला प्राणी है ...

खा - पी कर मस्त शेर 
अलसाया धूप सेंक रहा है 
उसके खुले जबड़े के पास 
बैठी चिड़िया -
मैना 
उसके दांतों में फंसे मांस के रेशों को 
कुरेदकर खा रही है , और 
शेर खुजली भरी गुदगुदी से 
आँखें मिचमिचा रहा है 
मूंछों के कम्पन देखने के 
काबिल हैं .

संसार है 
कहते हैं यह वास्तविक नहीं है 
जो है वह वास्तव में नहीं है 
और जो नहीं है उसकी प्रतीक्षा में 
सारा काम चल रहा है 
कुछ बातें रोज़ रोज़ घट रही हैं 
इसलिए उनके वास्तविक होने का भी 
कोई मतलब नहीं है 
कुछ बातें दुबारा कभी नहीं घटीं 
इसलिए वे भी बेमतलब हैं 
और कुछ बातें ऐसी बदली हैं -
जैसे दोस्ती शत्रुता में बदलती है -
कि उनके होने का और भी मतलब नहीं है 

संसार है 
कुछ तो यहाँ करना पड़ता है ...
कुछ नहीं तो 
किसी पेड़ या पत्थर से बातें करता हूँ 
मैना से दांत खुदवाते शेर को याद करके 
खुजली भरी गुदगुदी का अनुभव करता हूँ ...
संसार है -
इन्हीं बातों में 
इसका आर पार है .

- ध्रुव शुक्ल 
( सदानीरा से साभार )

8 comments:

yashoda agrawal said...

आपकी यह बेहतरीन रचना शनिवार 06/02/2013 को http://nayi-purani-halchal.blogspot.in पर लिंक की जाएगी. कृपया अवलोकन करे एवं आपके सुझावों को अंकित करें, लिंक में आपका स्वागत है . धन्यवाद!

धीरेन्द्र सिंह भदौरिया said...

संसार है
कहते हैं यह वास्तविक नहीं है
जो है वह वास्तव में नहीं है
और जो नहीं है उसकी प्रतीक्षा में
सारा काम चल रहा है ,,,,,

RECENT POST बदनसीबी,

Meeta Pant said...

धन्यवाद और आभार यशोदा जी.

संजय कुमार चौरसिया said...

bahut hi sundar rachna

महेन्द्र श्रीवास्तव said...

अच्छी रचना
बहुत सुंदर

सुखदरशन सेखों said...

Phalasfa to vakeaa hi khoobsoorat hai.....

रश्मि शर्मा said...

संसार है -
इन्हीं बातों में
इसका आर पार है ....आत्‍मालाप..सुखद है

संगीता स्वरुप ( गीत ) said...

सुंदर प्रस्तुति ... आभार इसे यहाँ पढ़वाने का

Post a Comment